6/11/2014 02:28:00 pm
0


Rajasthan is the home tract of various breeds of different livestock species.  With a view to encourage the livestock farming and to maintain these important famous breeds of the livestock, 10 state level cattle fairs are organized every year by the department in the different parts of the State.  The Animal Breeders earn about Rs. 25-30 Crore annually through the sale of the animals.  Besides these state level cattle fairs, nearly 240 cattle fairs are also organized by different agencies like Panchayat Samities, Nagar Palikas etc. in the State.
राजस्थान का भू-भाग विभिन्न पशुधन प्रजातियों के लिए गृह क्षेत्र है। पशुधन के उत्पादन को प्रोत्साहित करने के लिए और पशुओं की महत्वपूर्ण प्रसिद्ध नस्लों को बनाए रखने की दृष्टि से राज्य के विभिन्न भागों में पशुपालन विभाग द्वारा हर साल 10 राज्य स्तरीय पशु मेले आयोजित किये जाते हैं। राजस्थान में पशुधन मालिक/प्रजनक पशुओं की बिक्री के माध्यम से सालाना 25-30 करोड़ रुपये कमाते हैं। इन राज्य स्तरीय पशु मेलों के अलावा, लगभग 240 पशु मेले भी राज्य में पंचायत समितियों, नगर पालिका आदि अलग अलग एजेंसियों द्वारा आयोजित किये जाते हैं।
STATE LEVEL CATTLE FAIRS-
राज्य स्तरीय पशु मेले-
The heritage of Rajasthan and its cultural diversities is well projected in the various state level fairs conducted by the state Animal Husbandry department. These fairs are conducted with an aim to draw their attention to the scientific and technical developments in the Animal Husbandry sector and to motivate them for developing and rearing elite animals. These fairs are an appropriate source for sale and purchase of livestock adding to the income of livestock owners / breeders
There are 10 such fairs in the state, the list of which is as follows: 
राज्य पशुपालन विभाग द्वारा आयोजित विभिन्न राज्य स्तरीय मेलों में राजस्थान की विरासत और इसकी सांस्कृतिक विविधताओं को उत्तम ढंग से प्रस्तुत किया जाता है। इन मेलों का आयोजन पशुपालन के क्षेत्र में वैज्ञानिक और तकनीकी विकास के लिए लोगों का ध्यान आकर्षित करने और उनको कुलीन जानवरों के विकास और पालन के लिए प्रेरित करने के उद्देश्य से किया जाता है। ये मेले पशुओं की बिक्री और खरीद के माध्यम से पशुधन मालिकों/प्रजनकों की आय में वृद्धि करने के लिए एक उपयुक्त स्रोत हैं
पशुपालन विभाग द्वारा आयोजित 10 राज्य स्तरीय पशु मेले इस प्रकार है:


S.No

Name of the Cattle Fair
पशु मेले का नाम
District
जिला
Month of Conduction
आयोजन माह
As Per Hindi Tithi
हिंदी तिथि


1
Shri Ram Dev Pashu Mela
श्री राम देव पशु मेला
Nagore
नागौर
January - February
जनवरी-फरवरी
Magha Shukla 1 to Magha Shukla 15
माघ शुक्ल 1 से 15 (पूर्णिमा)


2
Shri Mahashivratri Pashu Mela
श्री महाशिवरात्रि पशु मेला
Karauli
करौली
February
फरवरी
Magha Shukla 15 to Phalgun Krishna 7
माघ शुक्ल 15 (पूर्णिमा) से फाल्गुन कृष्ण 7


3
Shri Malli Nath Pashu Mela, Tilwada
श्री मल्लीनाथ पशु मेला, तिलवाड़ा
Barmer
बाड़मेर
March - April
मार्च-अप्रैल
Chaitra Krishan 11 to Chaitra Shukla 11
चैत्र कृष्ण 11 से चैत्र शुक्ल 11


4
Shri Baldev Pashu Mela, Merta City
श्री बलदेव पशु मेला, मेड़तासिटी
Nagore
नागौर
March - April
मार्च-अप्रैल
Chaitra Shukla 1 to Chaitra Shukla 15
चैत्र शुक्ल 1 से चैत्र शुक्ल 15 (पूर्णिमा)


5
Shri Gomti Sagar Pashu Mela, Jhalrapattan
श्री गोमती सागर पशुमेला, झालरापाटन
Jhalawar
झालावाड़
May
मई
Baisakh Shukla 13 to Jyaistha Krishna 5
बैशाख शुक्ल 13 से ज्येष्ठ कृष्ण 5


6
Shri Veer Tejaji Pashu Mela, Parbatsar
श्री वीर तेजा जी पशुमेला, परबतसर
Nagore
नागौर
August
अगस्त
Savan Shukla 15 to Bhadra krishna 15
श्रावण शुक्ल 15 से भाद्र कृष्ण 15


7
Shri Gogamedi Pashu Mela
श्री गोगामेढ़ी पशुमेला
Hanumangarh
हनुमानगढ़
August - September
अगस्त- सितम्बर
Savan Shukla 15 to Bhadon Shukla 15
श्रावण शुक्ल 15 से भाद्र शुक्ल 15


8
Shri Jaswant Pradarshni & Pashu Mela
श्री जसवंत प्रदर्शनी एवं पशुमेला
Bharatpur
भरतपुर
September - October
सितम्बर-अक्टूबर
Ashwin Shukla 5 to Ashwin Shukla 14
अश्विन शुक्ल 5 से आश्विन शुक्ल 14


9
Shri Kartik Pashu Mela, Pushkar
श्री कार्तिक पशुमेला, पुष्कर
Ajmer
अजमेर
November
नवम्बर
Kartik Shukla 8 to Mangsir Krishna 2
कार्तिक शुक्ल 8 से मगसर कृष्ण 2 


10
Shri Chandrabhaga Pashu Mela, Jhalarapatan
श्री चन्द्रभागा पशुमेला, झालरापाटन
Jhalawar
झालावाड़
November - December
नवम्बर-दिसम्बर
Kartik Shukla 11 to Mangsir Krishna 5
कार्तिक शुक्ल 11 से मगसर कृष्ण 5








स्रोत- राजस्थान पशुपालन विभाग

0 टिप्पणियाँ:

Post a comment

Your comments are precious. Please give your suggestion for betterment of this blog. Thank you so much for visiting here and express feelings
आपकी टिप्पणियाँ बहुमूल्य हैं, कृपया अपने सुझाव अवश्य दें.. यहां पधारने तथा भाव प्रकट करने का बहुत बहुत आभार

स्वागतं आपका.... Welcome here.

राजस्थान के प्रामाणिक ज्ञान की एकमात्र वेब पत्रिका पर आपका स्वागत है।
"राजस्थान की कला, संस्कृति, इतिहास, भूगोल और समसामयिक दृश्यों के विविध रंगों से युक्त प्रामाणिक एवं मूलभूत जानकारियों की एकमात्र वेब पत्रिका"

"विद्यार्थियों के उपयोग हेतु राजस्थान से संबंधित प्रामाणिक तथ्यों को हिंदी माध्यम से देने के लिए किया गया यह प्रथम विनम्र प्रयास है।"

राजस्थान सम्बन्धी प्रामाणिक ज्ञान को साझा करने के इस प्रयास को आप सब पाठकों का पूरा समर्थन प्राप्त हो रहा है। कृपया आगे भी सहयोग देते रहे। आपके सुझावों का हार्दिक स्वागत है। कृपया प्रतिक्रिया अवश्य दें। धन्यवाद।

विषय सूची

Rajasthan GK (432) राजस्थान सामान्य ज्ञान (373) Current Affairs (245) GK (240) सामान्य ज्ञान (157) राजस्थान समसामयिक घटनाचक्र (129) Quiz (126) राजस्थान की योजनाएँ (105) समसामयिक घटनाचक्र (101) Rajasthan History (90) योजनाएँ (85) राजस्थान का इतिहास (52) समसामयिकी (50) General Knowledge (43) विज्ञान क्विज (40) सामान्य विज्ञान (34) Geography of Rajasthan (32) राजस्थान का भूगोल (30) Agriculture in Rajasthan (25) राजस्थान में कृषि (25) राजस्थान के मेले (24) राजस्थान की कला (22) राजस्थान के अनुसन्धान केंद्र (21) Art and Culture (20) योजना (20) राजस्थान के मंदिर (20) Daily Quiz (19) राजस्थान के संस्थान (19) राजस्थान के किले (18) Forts of Rajasthan (17) राजस्थान के तीर्थ स्थल (17) राजस्थान के प्राचीन मंदिर (17) राजस्थान के दर्शनीय स्थल (16) राजस्थानी साहित्य (16) अनुसंधान केन्द्र (15) राजस्थान के लोक नाट्य (15) राजस्थानी भाषा (13) Minerals of Rajasthan (12) राजस्थान के हस्तशिल्प (12) राजस्थान के प्रमुख पर्व एवं उत्सव (10) राजस्थान की जनजातियां (9) राजस्थान के लोक वाद्य (9) राजस्थान में कृषि योजनाएँ (9) राजस्थान में पशुधन (9) राजस्थान की चित्रकला (8) राजस्थान के कलाकार (8) राजस्थान के खिलाड़ी (8) राजस्थान के लोक नृत्य (8) forest of Rajasthan (7) राजस्थान के उद्योग (7) राजस्थान सरकार मंत्रिमंडल (7) वन एवं पर्यावरण (7) शिक्षा जगत (7) राजस्थान साहित्य अकादमी पुरस्कार (6) राजस्थान की झीलें (5) राजस्थान की नदियाँ (5) राजस्थान की स्थापत्य कला (5) राजस्थान के ऐतिहासिक स्थल (5) Livestock in Rajasthan (4) इतिहास जानने के स्रोत (4) राजस्थान की जनसंख्या (4) राजस्थान की जल धरोहरों की झलक (4) राजस्थान के संग्रहालय (4) राजस्थान में जनपद (4) राजस्थान में प्रजामण्डल आन्दोलन (4) राजस्थान रत्न पुरस्कार (4) राजस्थान सरकार के उपक्रम (4) राजस्थान साहित्य अकादमी (4) राजस्थानी साहित्य की प्रमुख रचनाएं (4) विश्व धरोहर स्थल (4) DAMS AND TANKS OF RAJASTHAN (3) Handicrafts of Rajasthan (3) राजस्थान की वन सम्पदा (3) राजस्थान की वेशभूषा (3) राजस्थान की सिंचाई परियोजनाएँ (3) राजस्थान के आभूषण (3) राजस्थान के जिले (3) राजस्थान के महोत्सव (3) राजस्थान के राज्यपाल (3) राजस्थान के रीति-रिवाज (3) राजस्थान के लोक संत (3) राजस्थान के लोक सभा सदस्य (3) राजस्थान में परम्परागत जल प्रबन्धन (3) Jewelry of Rajasthan (2) पुरस्कार (2) राजस्थान का एकीकरण (2) राजस्थान की उपयोगी घासें (2) राजस्थान की मीनाकारी (2) राजस्थान के अधात्विक खनिज (2) राजस्थान के अनुसूचित क्षेत्र (2) राजस्थान के जैन तीर्थ (2) राजस्थान के प्रमुख शिलालेख (2) राजस्थान के महल (2) राजस्थान के लोकगीत (2) राजस्थान बजट 2011-12 (2) राजस्थान मदरसा बोर्ड (2) राजस्थान में गौ-वंश (2) राजस्थान में पंचायतीराज (2) राजस्थान में प्राचीन सभ्यताएँ (2) राजस्थान में मत्स्य पालन (2) राजस्‍व मण्‍डल राजस्‍थान (2) राजस्थान का खजुराहो जगत का अंबिका मंदिर (1) राजस्थान का मीणा जनजाति आन्दोलन (1) राजस्थान की स्थिति एवं विस्तार (1) राजस्थान के कला एवं संगीत संस्थान (1) राजस्थान के चित्र संग्रहालय (1) राजस्थान के तारागढ़ किले (1) राजस्थान के धरातलीय प्रदेश (1) राजस्थान के धात्विक खनिज (1) राजस्थान के विधानसभाध्यक्ष (1) राजस्थान के संभाग (1) राजस्थान के सूर्य मंदिर (1) राजस्थान दिव्यांगजन नियम 2011 (1) राजस्थान निवेश संवर्धन ब्यूरो (1) राजस्थान बार काउंसिल (1) राजस्थान में चीनी उद्योग (1) राजस्थान में प्रथम (1) राजस्थान में भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग द्वारा संरक्षित स्मारक (1) राजस्थान में यौधेय गण (1) राजस्थान में वर्षा (1) राजस्थान में सडक (1) राजस्थान राज्य गैस लिमिटेड (1) राजस्थान राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग (1) राजस्थान राज्य सड़क विकास एवं निर्माण निगम (1) राजस्थान सुनवाई का अधिकार (1) राजस्थानी की प्रमुख बोलियां (1) राजस्थानी भाषा का वार्ता साहित्य (1) राजस्थानी साहित्य का काल विभाजन- (1) राजस्‍थान राज्‍य मानव अधिकार आयोग (1) राज्य महिला आयोग (1) राष्ट्रीय अश्व अनुसंधान केन्द्र बीकानेर (1) सिन्धु घाटी की सभ्यता (1)
All rights reserve to Shriji Info Service.. Powered by Blogger.

Disclaimer:

This Blog is purely informatory in nature and does not take responsibility for errors or content posted in this blog. If you found anything inappropriate or illegal, Please tell administrator. That Post would be deleted.